Loading...
सोमवार, अगस्त 13, 2012

मेरी राजस्थान यात्रा-1(पोकरण)

पोकरण 




पश्चिमी राजस्थान की यात्रा के आरम्भ में मैंने सोचा था कि पहला पड़ाव राम देवरा होगा लेकिन रुणीचा रा पीर के पुराने दर से पहले नए दर तक कैसे पहुँचता इसीलिए पोकरण में कुछ समय प्राचीन महल में बिताया तो श्रद्धा के साथ-साथ महल का कलात्मक सौंदर्य भी मुझे रुकने के लिए विवश करता रहा . वैसे बार-बार यह भी सोचता रहा कि पोकरण को अधिकांश देश वासी परमाणु परीक्षण   स्थल के रूप में जानते हैं लेकिन इस जगह का रिश्ता श्रद्धा से भी है और संस्कृति से भी. न जाने क्यों ये बात छुपी ही रह गयी ..... क्या सरकारें  श्रद्धा और संस्कृति के प्रसारित होने से डरती हैं ????????????

अशोक जमनानी 
 
TOP